भारत की पार्लियामेंट (Parliament of India) में क्यों लगे होते हैं उल्टे पंखे, वजह जानकर होंगे हैरान

Parliament of India: दुनियाभर में जितने भी देश हैं उन सब की राजनीतिक गतिविधियां उनके पार्लियामेंट (Parliament) से ही कंट्रोल की जाती है। इस वजह से हर देश की पार्लियामेंट अपने आप में बहुत खास हो जाती। क्योंकि वहां पर देश के हित के लिए हर वह फैसले लिए जाते हैं। जो देश के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होते है। जैसे की देश की कानून व्यवस्था को बनाये रखना। इसी तरह भारत का संसद भवन (Parliament House) भी भारत के लिए बहुत खास है। ना केवल राजनीतिक कारणों से बल्कि ऐतिहासिक कारणों से भी बहुत खास है और बहुत महत्वपूर्ण माना जाती है।

पर्यटकों की पसंद है संसद भवन

अगर कोई पर्यटक दिल्ली घूमने आता है तो वह भारत की ऐतिहासिक धरोहर संसद भवन में एक बार जरूर घूमने जरूर जाएगा।अगर आप दिल्ली घूमने आए अगर संसद भवन नहीं देखा तो कुछ नहीं देखा। यह संसद भवन एक बहुत पुरानी खास तकनीकों से बनी हुई है। जो आज के आधुनिक समय में अपने आप में ही एक ऐतिहासिक हो जाती हैं।

संसद भवन की अन्य जानकारियां

भारत की संसद भवन की नीव को ड्यूक ऑफ कनॉट ने 12 फरवरी 1921 को रखा था। इस इमारत का वास्तविक कार्यभार सर एडविन लुटियन ( Sir Edwin Lutiyan)और सर हावर्ड बेकर (Sir Haward Bekar) ने संभाला था। इन दोनों ने दिल्ली की योजनाओं के कार्य का निर्माण किया था। इस भवन का तत्कालीन गवर्नर (Governor) लॉर्ड इरविन ( Lord Erwin) ने 1927 में 28 जनवरी को किया था। आपको जानकर हैरानी होगी इस इमारत को उस समय में 83लाख रुपए खर्च कर कर बनाया था। इसको बनने में कम से कम 7 साल का समय लगा था। उस दौर की सबसे महंगी इमारतों में से एक थी। भारत का यह संसद भवन 6 एकड़ क्षेत्रफल में फैला हुआ है।इस भवन में 144 स्तंभ है।हर स्तंभ की ऊंचाई 27 फुट है। इस भवन में 12 द्वार भी हैं।

क्या है उल्टे पंखे लगाने की वजह

विशेषज्ञों का कहना है कि जब संसद भवन बनाई गई थी। तभी से इसमें उल्टे पंखे लगाए गए हैं।इसको ऐतिहासिक धरोहर बताते हुए कभी कोई बदलाव नहीं किया गया। तभी से उल्टे पंखे लगे रहने दिए गए। और दूसरी वजह यह है कि जो संसद भवन के हॉल होते हैं। वह काफ़ी ऊंचे होते हैं। उनकी छत से पंखे लगाने असंभव हो जाता है। इस कारण संसद भवन में उल्टे पंखे लगाए जाते हैं। अगर आपको कभी संसद भवन जाने का मौका मिले तो खासतौर से इस अद्भुत और अनोखे नजारें को जरुर देखना।

Hyderabad:यहाँ चिड़िया घर में मनाया जाता है चिंपैंजी का बर्थडे, जाने ऐसा क्यों…

Corona Virus Vaccine का सबसे बड़ा ट्राइल भारत में, जाने किस-किस शहर में होगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *