VIKAS DUBE ENCOUNTER: सूप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से पूछे सवाल, मामले की जांच रिटायर जस्टिस से करने को कहा…

VIKAS DUBE ENCOUNTER: आज विकास दुबे मामले में सूप्रीम कोर्ट उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देश देते हुए यह कहा की पूरे मामले की जांच रिटायर जस्टिस की निगरानी में की जाएगी। कोर्ट की सुनवाई में यूपी सरकार की तरफ से सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता मौजूद थे। कोर्ट ने यूपी सरकार को कहा कि कानून कि व्यवस्था बनाने का कर्तव्य आपका है। कोर्ट यह भी कहा था कि इस पूरी जांच में एक पूर्व डीजीपी को भी सामील किया जाए। वकील प्रशांत भूसन ने सुनवाई के दौरान कहा कि रितयार जज कि नियुक्ति सूप्रीम कोर्ट करें, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया।

बिकरू गाँव में हुई मुठभेड़ का आरोपी

आपको बता दें कि विकास दुबे बिकरू गाँव में हुई मुठभेड़ का मुख्य अपराधी था, जिसने 2 जुलाई की रात के दौरान हुई एक मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मियों की ह्त्या कर दी थी। जिसमें 7 पुलिसकर्मि घायल हुए थे। तभी उस घटना के बाद दुबे फरार हो गया था। उत्तर प्रदेश सरकार ने पूरे मामले को गंभीर लेते हुए, इसको एसटीएफ़ को सौंप दिया था।

10 जुलाई को एंकाउंटर में मौत

इस घटना के ठीक 7 दिन बाद विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर में सिक्योरिटी गौर्ड के हत्थे चाड गया, जिसके बाद मध्य प्रदेश के पुलिस ने उसको अपनी हिरासत में ले लिया। इसके बाद यूपी पुलिस दुबे को उज्जैन से पकड़कर कानपुर ला रही थी। पुलिस इसको कानपुर ले जाने के लिए भौंती बाई पास से आ रही थी कि आचनक से पशु आ गए तो ड्राईवर का कंट्रोल हाथ से छूट गया और गाड़ी पलट गयी। इसी दौरान विकास ने इंस्पेक्टर कि गन को छिंकर भागने लगा, जिसके बाद पुलिस मुठभेड़ में मारा गया।    

UP Board Syllabus: यूपी बोर्ड ने 30 फीसदी घटाया पाठ्यकर्म, छात्रों के लिए बड़ी राहत…

INDIAN MEDICAL ASSOCIATION: भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिसन शुरू हुआ, स्थिति बहुत खराब…

PM MODI: पाँच अगस्त को अयोध्या में श्रीराम मंदिर के लिए भूमि पूजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *