पीएनबी धोखाधड़ी मामला: ईडी के अनुरोध पर नीरव मोदी की पत्नी के खिलाफ इंटरपोल ने रेड नोटिस जारी किया, भगोड़ा नीरव मोदी ब्रिटेन की जेल में बंद है

पीएनबी धोखाधड़ी मामला: मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में 2 अरब डॉलर से अधिक के पीएनबी बैंक धोखाधड़ी मामले में नीरव मोदी के प्रमुख आरोपी अमी मोदी के खिलाफ इंटरपोल वैश्विक गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है.

अधिकारियों ने मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में पीएनबी बैंक धोखाधड़ी मामले में नीरव मोदी के 2 अरब डॉलर से अधिक के मुख्य अभियुक्त अमी मोदी (Ami Modi) की पत्नी के खिलाफ इंटरपोल वैश्विक गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. उन्होंने कहा कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अनुरोध पर वैश्विक पुलिस निकाय द्वारा ‘रेड नोटिस’ जारी किया गया है.

एक बार भगोड़े के खिलाफ जारी किए गए इस तरह के नोटिस के बाद, इंटरपोल अपने 192 सदस्यीय देशों को उस व्यक्ति को गिरफ्तार करने और हिरासत में लेने के लिए कहता है, जो उनके देशों में देखा रहते हैं. जिसके बाद प्रत्यर्पण या निर्वासन की कार्यवाही शुरू हो सकती है. कहा गया है कि 2018 में कथित बैंक धोखाधड़ी का मामला सामने आने के बाद अमी मोदी जल्द ही देश छोड़ चुके थे.

भारत-अमेरिका व्यापार के लिए कुछ मतभेदों को सुलझाने पर बात हुयी, जाने भारत के व्यापार मंत्री पीयूष गोयल ने क्या कहा

भगोड़ा नीरव मोदी (Nirav Modi) ब्रिटेन की जेल में बंद है

ईडी ने अमी मोदी पर उनके पति और जौहरी नीरव मोदी के अलावा उनके चाचा मेहुल चोकसी और अन्य के खिलाफ धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत साजिश रचने और धनशोधन का आरोप लगाया था. नीरव मोदी (49), मार्च, 2019 में लंदन में गिरफ्तार होने के बाद वर्तमान में ब्रिटेन की जेल में बंद है और वर्तमान में भारत के प्रत्यर्पण की लड़ाई लड़ रहा है. उन्हें इस साल की शुरुआत में मुंबई की एक अदालत द्वारा आर्थिक भगोड़ा अपराधी घोषित किया गया था और अदालत ने उनकी संपत्ति को जब्त करने का भी आदेश दिया था.

बिजनेसमैन, चोकसी और अन्य को ED द्वारा मुंबई में पीएनबी की एक शाखा में 2 बिलियन अमरीकी डॉलर से अधिक के कथित बैंक धोखाधड़ी के संबंध में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जांच की जा रही है. इसी तरह के इंटरपोल नोटिस नीरव मोदी के छोटे भाई नेहाल मोदी और बहन पूर्वा मोदी के खिलाफ भी जारी किए गए हैं.

सुप्रीम कोर्ट: खाड़ी देशों में NEET 2020 छात्रों को वंदे भारत की उड़ानों के माध्यम से आने की अनुमति, NEET UG 2020 परीक्षा 13 सितंबर से होने की संभावना

चीनी वाणिज्य मंत्रालय ने कहा कि चीन और अमेरिका व्यापार वार्ता आयोजित करने के लिए सहमत हैं, जाने पूरी कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *