ड्रीम 11: आईपीएल 2020 को इस सीजन का स्पोंसर मिला, जाने कितने करोड़ खर्च करेगा ड्रीम 11

ड्रीम 11: भारत और चीन के साथ सीमा पर हुई सैनिक भिड़ंत के बाद बीसीसीआई ने आईपीएल फ्रेंचाइजी के चाइना की विवो कंपनी के साथ अपना करार तोड़ दिया था. देश में चाइना विरोधी मांग बहुत तेजी से बढ़ रही थी. इसी के साथ 19 सितंबर को यूएई में खेले जाने वाले आईपीएल के लिए नई फ्रेंचाइजी की खोज अब खत्म हो गई है. फंटेसी क्रिकेट प्लेटफॉर्म ड्रीम 11 ने आईपीएल 2020 के लिए 222 करोड़ रुपये की विजेता बोली के साथ शीर्षक प्रायोजन प्राप्त कर लिया है. आईपीएल के अध्यक्ष बृजेश पटेल ने इस बात की पुष्टि की ड्रीम 11 ने Unacademy (INR 171 Cr) और Byju’s (INR 201 Cr) को हराकर यह सौदा हासिल किया जो 18 अगस्त से 31 दिसंबर, 2020 तक चलेगा. जी हां, इस साल आईपीएल की स्पोंसरशिप Dream 11 ने अपने नाम कर ली है.

स्टार इंडिया लिमिटेड आईपीएल के विज्ञापन स्लॉट बेचेगी, फेस्टिव सीजन के दौरान स्पोर्ट्स लाइव की डीमांड को बढ़ाने के लिए

BCCI का विवो के साथ कितने साल का था करार

2020 के सीज़न से हटने के अपने अनुबंध में फोर्स मेज़र क्लॉज़ के आह्वान के बाद, बीसीसीआई को वीवो के लिए अंतिम मिनट के प्रतिस्थापन के लिए संघर्ष करना पड़ा. VIVO ने 2018 में INR 2199 करोड़ के पांच साल के सौदे पर हस्ताक्षर किए थे. जिसने BCCI को लगभग 440 करोड़ रुपये का सीजन प्राप्त होता था.

2018 में बीसीसीआई और आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों के बीच राजस्व साझेदारी समझौते के अनुसार, टीमों ने केंद्रीय अधिकारों से 50 प्रतिशत की कमाई की जिसमें प्रसारण, शीर्षक और अन्य प्रायोजन सौदे शामिल हैं. इसका मतलब है कि लगभग INR 111 करोड़ इस सीज़न के लिए फ्रैंचाइज़ी के बीच विभाजित हो जाएंगे. क्योंकि VIVO ने साइन अप करने के बाद प्रति सीजन दोगुनी राशि (INR 220 करोड़) का विरोध किया है.

एम एस धोनी का करियर और उनसे जुडी कुछ खास बातें जो उनको दूसरों से लग बनती हैं, धोनी जैसा कोई नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *