दिल्ली सीरो सर्वेक्षण: 29% जनसंख्या ने कोविड-19 के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित कर ली, दूसरा सीरो सर्वेक्षण

दिल्ली सीरो सर्वेक्षण: सर्वेक्षण के दौरान, वायरस के प्रसार का आकलन करने के लिए दिल्ली के 11 जिलों में कुल 15,000 नमूने एकत्र किए गए थे. पिछले सीरोलॉजिकल सर्वे से पता चला है कि परीक्षण किए गए 23% लोगों को शहर में कोरोनावायरस के संपर्क में थे.

दिल्ली में अगस्त के पहले सप्ताह में किए गए दूसरे दौर के सीरोलॉजिकल सर्वे ने सुझाव दिया है कि परीक्षण किए गए 29.1% लोगों ने कोरोनावायरस के खिलाफ अपने शरीर में एंटीबॉडी विकसित कर ली है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि सर्वेक्षण के दौरान दिल्ली के 11 जिलों में कुल 15,000 नमूनों को वायरस के खिलाफ टेस्ट किया गया था. दूसरा सर्जिकल सर्वेक्षण, जो 1-7 अगस्त के बीच आयोजित किया गया था उसमें पता चलता है कि 29.1% लोगों ने #COVID19 के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित की है.

पहला सीरो सर्वेक्षण

पिछले सेरोलॉजिकल सर्वे से पता चला था कि परीक्षण किए गए लोगों में से 23% लोगों को शहर में कोरोनावायरस के संपर्क में थे. यह अध्ययन दिल्ली सरकार के सहयोग से NCDC द्वारा 27 जून से 10 जुलाई तक किया गया था और इसमें 21,387 नमूनों का परीक्षण किया गया था.

यह दर्शाता है कि राष्ट्रीय राजधानी के 11 जिलों में से आठ में 20 प्रतिशत आबादी ने COVID-19 के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित कर ली है. सर्वेक्षण ने यह भी संकेत दिया कि बड़ी संख्या में संक्रमित लोग स्पर्शोन्मुख रहते हैं.

एक सीरो-सर्वेक्षण में संक्रमण के खिलाफ एंटीबॉडी की व्यापकता की जांच करने के लिए व्यक्तियों के रक्त सीरम का परीक्षण भी शामिल है.

कोरोना वैकसीन: भारत का कहना है कि कोविड-19 टीके की प्रगति अच्छी तरह से चल रही हैं, सरकार ने निर्मताओं से संभावित कीमतें इंगित करने को कहा

मुकेश अंबानी: दुनिया की टॉप 5 लिस्ट में हुये शामिल, बने दुनिया के चोथे सबसे अमीर आदमी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *